عن محمود بن لبيد -رضي الله عنه- مرفوعاً: "أَخْوَفُ ما أخاف عليكم: الشرك الأصغر، فسئل عنه، فقال: الرياء".
[صحيح.] - [رواه أحمد.]
المزيــد ...

महमूद बिन लबीद (रज़ियल्लाहु अन्हु) अल्लाह के रसूल (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) से रिवायत करते हैं कि आपने फ़रमायाः "मुझे तुम्हारे बारे में जिस वस्तु का भय सबसे अधिक है, वह है, छोटा शिर्का।" आपसे उसके बारे में पूछा गया, तो फ़रमायाः "दिखावे के लिए काम करना।"
-

व्याख्या

इस हदीस में अल्लाह के नबी (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) बता रहे हैं कि आप हमारे बारे में डरते हैं। तथा आपको हमारे बारे में जिस वस्तु का भय सबसे अधिक है, वह है छोटा शिर्क। इस भय का कारण यह है कि नबी (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) अपनी उम्मत पर बड़े दयालु थे तथा उनके सुधार के लिए हर समय चिंतित रहते थे। चूँकि आपको पता था कि छोटा शिर्क अर्थात दिखावे के अनेकों रास्ते एवं कारण, वह मुसलमानों के बीच ऐसे आ सकता है कि उन्हें एहसास तक न हो, फिर उन्हें हानि भी पहुँचा सकता है, इसलिए उन्हें इससे सावधान कर दिया।

अनुवाद: अंग्रेज़ी फ्रेंच स्पेनिश तुर्की उर्दू इंडोनेशियाई बोस्नियाई रूसी बंगला चीनी फ़ारसी तगालोग
अनुवादों को प्रदर्शित करें