عن ابن عباس -رضي الله عنهما- مرفوعاً: رأى رسول الله -صلى الله عليه وسلم- حِمَارًا مَوْسُومَ الوَجْهِ، فأنكر ذلك؟ فقال: «والله لا أَسِمُهُ إلا أقصى شيء من الوجه» وأمر بحماره فُكُوِيَ في جَاعِرَتَيْهِ، فهو أول من كوى الجاعرتين.
[صحيح.] - [رواه مسلم.]
المزيــد ...

इब्ने अब्बास (रज़ियल्लाहु अनहुमा) से मरफ़ूअन वर्णित है कि अल्लाह के रसूल (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) ने एक गधा देखा, जिसके चेहरे को दाग़ा गया था, तो आपने इसे नापसंद किया। इब्ने अब्बास को मालूम हुआ, तो फ़रमाया: अल्लाह की क़सम! मैं चेहरे के सबसे निचले भाग में दागा करूंगा और अपने गधे के प्रति हुक्म दिया और उसके पिछली रानों में दाग़ा गया, तो इब्ने अब्बास सबसे पहले रानों पर दागने वाले हैं।
-

व्याख्या

अनुवाद: अंग्रेज़ी स्पेनिश तुर्की उर्दू इंडोनेशियाई बोस्नियाई बंगला चीनी फ़ारसी तगालोग
अनुवादों को प्रदर्शित करें