عن عبد الله بن عباس -رضي الله عنهما- «قال رسول الله -صلى الله عليه وسلم- في بنت حمزة: لا تحل لي، يحرم من الرضاع: ما يحرم من النسب، وهي ابنة أخي من الرضاعة».
[صحيح] - [متفق عليه]
المزيــد ...

अब्दुल्लाह बिन अब्बास -रज़ियल्लाहु अन्हु- से वर्णित है कि अल्लाह के रसूल -सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम- ने हमज़ा की बेटी के बारे में फ़रमाया : "वह मेरे लिए हलाल नहीं है। स्तनपान से वह सारे रिश्ते हराम हो जाते हैं, जो नसब से हराम होते है और वह मेरे दूधभाई की बेटी है।"
सह़ीह़ - इसे बुख़ारी एवं मुस्लिम ने रिवायत किया है।

व्याख्या

अली बिन अबू तालिब -अल्लाह उनसे प्रसन्न हो- ने नबी -सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम- से आग्रह किया कि आप हमज़ा -रज़ियल्लाहु अनहु-, जो दोनों के चचा थे, की बेटी से शादी कर लें। इसपर आपने उन्हें बताया कि वह आपके लिए हलाल नहीं है, क्योंकि वह आपके दूधभाई की बेटी है। आप -सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम- और आपके चचा हमज़ा ने अबू लहब की दासी सुवैबा का स्तनपान किया था। अतः, वह दूधभाई हो गए और उनकी बेटी आपकी भतीजी। जबकि स्तनपान से वह सारे रिश्ते हराम हो जाते हैं, जो जन्म के कारण हराम होते हैं।

अनुवाद: अंग्रेज़ी फ्रेंच स्पेनिश तुर्की उर्दू इंडोनेशियाई बोस्नियाई रूसी बंगला चीनी फ़ारसी तगालोग उइग़ुर कुर्दिश होसा पुर्तगाली
अनुवादों को प्रदर्शित करें
अधिक