عن عياض بن حمار -رضي الله عنه- مرفوعاً: «أهل الجنة ثلاثة: ذو سلطان مُقْسِطٌ مُوَفَّقٌ، ورجل رحيم رقيق القلب لكل ذي قربى ومسلم، وعفيف مُتَعَفِّفٌ ذو عيال».
[صحيح.] - [رواه مسلم.]
المزيــد ...

अयाज़ बिन हिमार (रज़ियल्लाहु अंहु) नबी (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) से रिवायत करते हुए कहते हैंः "जन्नती तीन प्रकार के लोग होंगेः न्यायप्रिय एवं तौफ़ीक़ प्राप्त बादशाह, ऐसा व्यक्ति जो हर रिश्तेदार और मुसलमान के लिए दयालु और नरम दिल हो तथा ऐसा बाल-बच्चों वाला व्यक्ति, जो दूसरों के आगे हाथ न फैलाए।"
सह़ीह़ - इसे मुस्लिम ने रिवायत किया है।

व्याख्या

अनुवाद: अंग्रेज़ी फ्रेंच स्पेनिश तुर्की उर्दू इंडोनेशियाई बोस्नियाई रूसी बंगला चीनी फ़ारसी तगालोग वियतनामी सिंहली होसा
अनुवादों को प्रदर्शित करें