عن أبي أمامة -رضي الله عنه-: أن رجلًا، قال: يا رسول الله، ائْذَنْ لي في السِيَاحَة! فقال النبي -صلى الله عليه وسلم-: «إن سِيَاحَة أُمَّتِي الجِهاد في سَبِيلِ الله -عز وجل-».
[صحيح] - [رواه أبو داود]
المزيــد ...

अबू उमामा- रज़ियल्लाहु अन्हु- से रिवायत है कि एक व्यक्ति ने कहाः ऐ अल्लाह के रसूल! मुझे भ्रमण करने की अनुमति दीजिए। तो नबी (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) ने फ़रमायाः "मेरी उम्मत का भ्रमण, अल्लाह तआला के रास्ते में जिहाद है।"
सह़ीह़ - इसे अबू दाऊद ने रिवायत किया है।

व्याख्या

अनुवाद: अंग्रेज़ी फ्रेंच स्पेनिश तुर्की उर्दू इंडोनेशियाई बोस्नियाई रूसी बंगला चीनी फ़ारसी तगालोग वियतनामी सिंहली उइग़ुर कुर्दिश होसा
अनुवादों को प्रदर्शित करें
अधिक